Bitcoins (Digital Virtual Currency) पाने के आसान तरीके

2

जब से bitcoin market में आया है, हर कोई इसी के बारे में बात कर रहा है। कहीं parliament में government इस पर discuss कर रही है, कहीं national media पर इसकी बातें broadcast हो रही है, तो कहीं, financial policymakers द्वारा दरवाजों के पीछे भी इसके बारे में ही बात हो रही है। चाहे घर हो office हो या गलियां, bitcoins के बारे में discussion बढ़ते ही जा रहा है। हालाँकि सभी लोग bitcoins के बारे में जानने लगे हैं, ऐसे लोग अभी भी बहुत कम हैं जो जाने कि bitcoins को कहाँ से और कैसे पाया जा सकता है।

वैसे तो bitcoins को पाने के सिर्फ 2 ही तरीके हैं। पहला bitcoin mining कर के और दूसरा, bitcoins खरीद कर। तो चलिए, पहले इन दोनों में difference पढ़ते हैं और उसके बाद जानेंगे कि bitcoins buy करने की best methods क्या हैं।

Bitcoin mining Vs Bitcoin buying

Bitcoin Mining एक ऐसी process है जिसकी मदद से नए bitcoins generate किये जाते हैं। इस process में Mining devices का उपयोग होता है। ये devices complex mathematical problems को solve करने के काम में आती है। एक problem solve करना मतलब, एक block solve करना है। हर एक block या problem solve करने पर reward के रूप में miner को bitcoins मिलते हैं। इस काम के लिए market में Bitcoin Mining calculators भी उपलब्ध हैं जहाँ कुछ required information submit करने पर आप ये पता लगा सकते हैं कि Mining की process में around कितने bitcoins generate होंगे।

इसके साथ ही, Bitcoin Mining एक बहुत बड़ा investment मांगती है क्यूंकि आपको बहुत ही heavy Mining devices की ज़रुरत होती है जो heavy electricity consumption भी करती है।

तो ज्यादा details में जाये बिना, आपको Mining और Buying में अंतर बताते हैं।

  • Mining की process में new bitcoins generate किये जाते हैं जो कहीं भी use या trade नहीं किये गए हैं।
  • Buying की process में आप किसी service, goods या current currency के बदले में bitcoins पाते हैं। ये bitcoins already used और traded होते हैं।

Bitcoins पाने के तरीके

Bitcoins पाने के कई तरीके हैं। चलिए हम जानते हैं कुछ famous तरीकों के बारे में जिनसे Bitcoins पा सकते हैं। वैसे Bitcoins पाने के कई सारे तरीके हैं, सबसे अच्छा तरीका वही है जो आपको preferred payment method और preferences से match करे।

1. Trading platforms से

Bitcoins पाने का सबसे common या basic source है, trading platforms ये trading platforms सिर्फ Bitcoins ही नहीं, बहुत सारी दूसरी crypto currencies भी उपलब्ध कराते हैं। यहाँ आप अपनी regular currency से new Bitcoin या दूसरी crypto currencies directly buy या sell कर सकते हैं। लेकिन crypto currency exchange और trading platforms में सबसे बड़ा अंतर ये होता है कि cryptocurrency exchange trading platforms की तुलना में बहुत सारे और भी features देता है और वहां दूसरी cryptocurrencies के बदले में नयी भी purchase कर सकते हैं। इन platforms को brokerage platforms भी कहा जाता है। हालाँकि trading platforms कम features देते हैं, लेकिन वे बहुत ही simple होते हैं और उन्हें use करना बहुत ही आसान होता है। trading platforms के एक बहुत ही common example Coinbase है।

2. Cryptocurrency Exchanges से

जैसा कि ऊपर मैंने बताया, cryptocurrency trading platforms और Exchanges में काफी समानताएं हैं, लेकिन कुछ अंतर भी हैं। Exchanges आपको बहुत सारे features उपलब्ध कराते हैं। जैसे कि Coinbase एक trading platform है, लेकिन GDAX एक cryptocurrency Exchange platform है। Exchange platforms में आपको flat currencies के बदले में ही cryptocurrency नहीं मिलती बल्कि किसी दुसरी cryptocurrency के Exchange में दूसरी cryptocurrency भी मिल जाती है।

इसके अलावा ये cryptocurrency Exchange platforms users को analytics tools भी देते हैं। इस tool की सहायता से users currency का historic data देख सकते हैं और साथ ही, ये भी देख सकते हैं कि इस currency ने past में कैसे perform किया है। इसके अलावा यहाँ users targets और stop-losses set कर सकते हैं। trading activities को automate करना भी यहाँ संभव है। कुछ common cryptocurrency Exchanges हैं, Binance, Poloniex, Bittrex, आदि।

3. Cash के बदले

हालाँकि cryptocurrency Exchanges और trading platforms, Bitcoin पाने के सबसे अच्छे तरीके हैं, लेकिन वे बदले में आपकी KYC details (Know Your Customer) मांगते हैं, जिसमे आपकी personal information भी शामिल होती है। इन details को मांगने के पीछे government का हाथ होता है क्यूंकि वो जानना चाहते हैं कि कहीं कोई black money तो शामिल नहीं हो रही।

इसलिए वो लोग, जो इन transactions को एकदम private रखना चाहते हैं, वो cash का उपयोग कर के Bitcoins पा सकते हैं। Simply, अपने दोस्तों से पूछिए जो Bitcoins बेचना चाहते हैं और उन्हें cash में pay कीजिये। इसके अलावा आप कुछ ऐसी websites पर भी जा सकते हैं, जहाँ आपको preferred payment method और locality choose करने का मौका मिल जाता है। फिर आप ऐसे लोगो को ढूंढ सकते हैं जो उस payment method से Bitcoin sell करना चाहते हैं। Localbitcoins.com ऐसी ही एक website है। लेकिन, भूले नहीं कि इस तरह कि deals बहुत ही risky होती है इसलिए finalize करने से पहले अच्छे से जाँच पड़ताल कर लें।

4. Bitcoin ATMs से

अंत में, आजकल Bitcoin ATMs का चलन भी बढ़ता जा रहा है, especially US, South-East और East Asian देशों में। Bitcoin ATMs ऐसी machines हैं जो Bitcoins के Exchange में cash लेती हैं। इस तरह की machines बढ़ती जा रही हैं। हालाँकि Bitcoins की value कुछ समय से नीचे जा रही है, लेकिन इस तरह की machines बढ़ती ही जा रही हैं। ये machines US और Singapore में बहुत ही popular हैं।

Conclusion:

जैसे कि मैंने ऊपर बताया, Bitcoins पाने के कई सारे तरीके हैं लेकिन किसी भी option को choose करने से पहले, नीचे दिए गए कुछ सवाल खुद से पूछे

  • इस method में कितनी fees charge होती है?
  • क्या इस method द्वारा दिया गया payment method मुझे suit करता है?
  • क्या इस method द्वारा दी गई privacy से मैं सहमत हूँ?
  • क्या ये method सुरक्षित है?

अगर इन सवालों के जवाब आपकी needs को suit करते हैं तो आप उसी method को चुने।

दोस्तों, Bitcoins, Cryptocurrency, Digital Virtual Currency से related जानकारियां वाला यह पोस्ट आशा हैं आपको काफी पसंद आया होगा, आप अपने सुझाव comments के माध्यम से बताएं और इस POST को अपने दोस्तों के साथ भी Social Media (Facebook, Google+, Twitter, WhatsApp)  Share करना न भूलें।

About Author

Prince Kapoor is Independent Marketing Analyst and Blogger. While not working, you can find him in gym or giving random health advises to his colleagues which no one agrees on :D. If you too want some of his advises (on health or on marketing), reach him out at @imprincekapur

नयी पोस्ट ईमेल द्वारा प्राप्त करने के लिए Sign Up करें।
Follow us on:
facebook twitter gplus pinterest rss

2 Comments

Leave A Reply