सोशल ट्रेड | Social Trade in Hindi | Part Time Online [email protected]

18

सोशल ट्रेड बिज़नेस इन हिंदी, सोशल ट्रेड बिज़, Social Trade in Hindi, Ablaze Social Trade
दोस्तों, सोशल ट्रेड के बारें में आप सभी ने सुना होगा और अगर नहीं सुना तो बहुत ही जल्द आप अपने किसी मित्र या परिचित से इसके बारें में सुनोगे।

और इनमें से कुछ लोग आपको दावा करके कहेंगे कि आप इसमें जितना investment करेंगे, उसका कम से कम ढाई गुना Social Trade एक साल के भीतर ही वापस कर देगी और अधिकतम की तो कोई सीमा ही नहीं है अत: जल्द से जल्द join करो और पैसा कमाने का अवसर मत छोड़ो, आइये जानते हैं Social Trade के बारें में।

SocialTrade or SocialTrade.biz (सोशल ट्रेड डॉट बिज़) क्या हैं?

इसको ‘सामाजिक व्यापार बिज़’, शोशल ट्रेड.बिज और सोशल ट्रेड बिज़ के नाम से भी जाना जा रहा हैं। कम समय में अधिक पैसा कमाने का सपना लिए बहुत सारे लोग हर रोज़ ‘Social Trade’ से जुड़ रहे हैं, और कई लोग तो इससे जुड़कर काफी पैसा भी बना चुके हैं। अब भी जो लोग इस कंपनी से जुड़ रहे हैं, उनके बैंक खाते में कंपनी हर रोज़ पैसे जमा करा रही है। यह कंपनी किसकी है? क्या काम करती है? कैसे काम करती है और कैसे ये लाखो लोगों को रातों-रात अमीर बना देने का वादा कर पा रही है?

जैसा कि मुझे मेरे दोस्तों ने बताया कि ‘Social Trade’ ABLAZE Info Solutions (अब्लेज़ इन्फो सोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड) नाम की कंपनी की ही एक इकाई है। इसकी शुरुआत August 2015 में हुई थी। यह डिजिटल मार्केटिंग का काम करती है। सोशल मीडिया (Facebook, Twitter, LinkedIn) पर कई लोग अपनी कंपनियों का प्रचार करते हैं। जैसे फेसबुक पर कई लोग अपने पेज को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए (Business Reach के लिए) फेसबुक को पैसा देते हैं। Social Media पर प्रचार का यही काम सोशल ट्रेड भी करती है।

SocialTrade काम कैसे करता हैं?

SocialTrade एक website हैं जहाँ पर आपको काम करने के लिए membership लेनी पड़ती हैं, अभी चार तरह की Membership सोशल ट्रेड दे रहा हैं।

STP 10 (10 clicks per day) – INR 5750
STP 20 (20 clicks per day) – INR 11500
STP 50 (50 clicks per day) – INR 28750
STP 100 (100 clicks per day) – INR 57500

और ये फीस एक साल के लिए वैध हैं एक साल बाद आपको दोबारा से plan/package को renewal करवाना पड़ता हैं।
अगर आप 11,500 हज़ार का प्लान लेते हैं तो आपको 20 लिंक/क्लिक मिलते हैं, इन clicks की संख्या अलग अलग प्लान में अलग-अलग होती हैं जिनको आपको क्लिक करना पड़ता हैं हर एक क्लिक के Social Trade आपको 5 रूपये देता हैं, बस इतना ही करना हैं और उसके बाद अपने Task को submit कर देना होता हैं आप अपने per day की income तो daily basis, weekly या monthly mode में ले सकते हैं। Social Trade ये पैसा आपके Bank Account में NEFT करके Send कर देता हैं।

ये Links कौनसी website या Facebook पेज के होते हैं?

जैसा कि मुझे मेरे दोस्त ने बताया कि Social Trade मूल रूप से SEO का काम करती है। SEO यानी ‘सर्च इंजन ऑप्टीमाईजेशन’ सरल भाषा में समझें तो इसका मतलब है Google और Yahoo, Rediff जैसे सर्च इंजन पर किसी वेबसाइट को बढ़ावा देना, इसके बारें विस्तृत रूप में नीचे बताता हूँ। Social Trade के अनुसार जो links वह अपने user/customers को भेजती हैं ये links मुख्यतः उन लोगों की website या Facebook पेज के होते हैं जिन्होंने अपने प्रचार के लिए Social Trade को पैसे दिए हैं। कंपनी उन लोगों से हर क्लिक के 10-15 रूपये लेती है, इसमें से हर क्लिक के पांच रूपये वो क्लिक करने वाले को देती हैं और बाकी Social Trade खुद रख लेती है।

इसके बाद मुझे बताया कि इसके अलावा सोशल ट्रेड पर असली कमाई लोगों को जोड़ने से होती है।

जैसे किसी भी Multi Level Marketing(एमएलएम) वाले व्यापार में लोगों को जोड़ना होता है, वैसे ही सोशल ट्रेड में भी ज्यादा से ज्यादा लोगों को कंपनी से जोड़ने पर आपकी कमाई कई गुना तक बढ़ जाती है।

MLM कम्पनी क्या होती हैं और ये सब कुछ समय बाद बन्द या inactive कैसे हो जाती हैं?

MLM का फुल फॉर्म होता हैं Multi Level Marketing। इसमें company मार्केटिंग का खर्चा नहीं करती हैं बल्कि यह काम उसकें अपने customers ही करते हैं और company इस काम के लिए उनको कुछ commission देती हैं, यह commission उनको जितने member वो जोड़ता हैं उसके हिसाब से मिलता रहता हैं, जब कोई भी एक लेग चलनी बंद हो जाती हैं तो company की इनकम आना बंद हो जाती हैं और इसी तरह कस्टमर का commission भी आना बंद हो जाता हैं और इस तरह से company बंद हो जाती हैं और कोई Company Inactive हो जाती हैं और कई company पैसा लेकर भाग भी जाती हैं।

SEO, SMO, SME क्या होता हैं और कैसे काम करता हैं, आइये जानते हैं।

SEO की फुल फॉर्म हैं Search Engine Optimization
SMO stands for Search Media Optimization
SME Search Media Exchange

जैसे मुझे Jaipur में फाइव स्टार्ट होटल में 2 दिन के लिए रूम बुक करवाने हैं, मुझे होटल का नाम address के बारें में ज्यादा पता नहीं हैं और जयपुर में बारें में भी अगर कुछ खास पता नहीं हैं, तो प्राचीन काल में अपने किसी सगे-सम्बन्धी या किसी मिलने वाले के सगे-संबधी यदि जयपुर में रह रहे हैं तो उससे जयपुर और उससे related जानकारियां हासिल की जाती थी, लेकिन आजकल के युग में Computer और Internet के पुरे विश्व को जोड़ दिया हैं जिससे किसी भी देश के किसी भी शहर या किसी भी प्रकार की जानकारी seconds में ही website और internet से प्राप्त की जा सकती हैं।

google-serp-1

Google SERP-Part-1 (इसमें Google keywords से related advertisement) show कर रहा हैं

तो जैसा मैं बात कर रहा था मुझे जयपुर में होटल बुक करना हैं तो मैं सर्च इंजन (website जो search करने की facilityऔर सर्च किये हुए keywords के according हमें परिणाम देता हैं) जैसे कि गूगल, याहू, रीडिफ़ या फिर अन्य कोई, वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दूँ कि किसी भी website पर 98% traffic सर्च इंजन के रिजल्ट्स के through ही आता हैं और इसमें भी 97% तक का traffic केवल गूगल के through ही आता हैं (चीन, रूस इसके अपवाद हैं वहां पर गूगल का ज्यादा use नहीं किया जाता बल्कि अन्य सर्च इंजन को काम में लिया जाता हैं)

google-serp-2

Google SERP-Part-2 First 10 results show कर रहा हैं

जयपुर में होटल देखने के लिए मैं गूगल खोलता हूँ और search keywords डालता हूँ।
“Five star hotels in jaipur”, और मुझे यह परिणाम/ पेज मिला (आजकल Google First 4-5 links advertise के देता हैं), जिसमें कि 10 links दिए हुए हैं, अब यह तो आप सभी को पता ही होगा कि जयपुर में केवल 10 ही फाइव स्टार्ट होटल तो नहीं हैं, बल्कि इनसे बहुत ज्यादा हैं, इसके बाद आप और हम जैसे लोग और मैं तो कहता हूँ कि 90% लोग यही से होटल की website के लिंक पर जाते हैं और होटल बुक करवा लेते हैं, कुछ लोग जिनको कि रिजल्ट थोडा पसंद नहीं आया(लगभग 8%), वो सेकंड पेज पर जाते हैं, Third पेज पर बहुत ही कम लोग जाते हैं।

google-serp-3

Google SERP-Part-3 Total number of pages that matches with the keywords show कर रहा हैं, 90% visitor 2nd page visit नहीं करते हैं

यह एक example हैं, जैसे जो रिजल्ट/लिंक पहले नंबर पर आया, वो सबसे ज्यादा बार और ज्यादा लोगो द्वारा देखा जायेगा और उसका business भी जयादा होगा। मतलब होटल के room भी जयादा बुक होंगे, उसकी services का use ज्यादा customers के द्वारा किया जायेगा और ऐसा हर कोई होटल वाला चाहेगा कि उसके रूम ज्यादा से ज्यादा बुक हो, इसके लिए उसको Google SERP (Search Engine Result Page) में First Position में आना होगा और at-least फर्स्ट पेज में तो जरुर ही आना होगा, इसके लिए जो भी कार्य किया जाता हैं उसको SEO कहा जाता हैं, Search Engine में अपनी website को optimize करना, इसके लिए गूगल और बाकी सर्च इंजन ने बहुत सारे अल्गोरिथम(Coding Algorithm) बना रखे हैं और उसके according website को फर्स्ट पेज या सेकंड पेज में वरीयता मिलती हैं, गूगल समय समय पर अपने इन अल्गोरित्म में भी बदलाव करता रहता हैं।

Search Engine (सर्च इंजन) में वरीयता पाने के लिए मुख्य बिंदु इस प्रकार हैं।

  • Website का content कही से कॉपी(copy) किया हुआ या चुराया हुआ नहीं होना चाहिए।
  • Website का content up-to-date और up-to-the-point होना चाहिए।
  • जिस keyword से लोग आपके website को या उस कंटेंट को सर्च करें वो आपको कंटेंट में ज्यादा से ज्यादा काम में लेना चाहिए लेकिन इस बात का भी हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि कंटेंट अच्छा हो और पढने लायक हो, केवल सर्च इंजन में ऊपर के लिए नहीं लिखा गया हो।
  • Website Content (कंटेंट) में Image अथवा चित्र हो तो यह अच्छा होगा और यूजर/विजिटर ऐसे content को पढ़ने में ज्यादा Interest लेंगे।
  • आपकी website responsive होनी चाहिये जैसा कि आप सबको पता हैं कि आजकल website कंप्यूटर में कम और mobile device में ज्यादा open की जाती हैं तो यूजर अगर मोबाइल में website खोले तो उसे किसी भी तरह की परेशानी न हो, और वह पूरी website को desktop computer की तरह ही पढ़ पायें और use कर पायें।
  • अच्छा meta description लिखे।
  • किसी भी query का अच्छे से और जितना जल्दी हो सके reply दे।
  • अपने कंटेंट को समय समय पर update करते रहना चाहिए और अगर नया कोई कंटेंट add करना चाहते हो तो यह आपकी website की health के लिए अच्छा रहेगा।
  • यूजर इंटरफ़ेस, डिजाईन आपके website के business के according ही हो।
  • आपको अपने business से related website को विजिट करते रहना चाहिए और अगर आपको कुछ उससे रिलेटेड लिखना चाहते हो तो लिखो और ज्यादा से ज्यादा back links बनाने की कोशिश करें।
  • आपकी website जल्दी load होनी चाहिए, मतलब पेज खोलने में ज्यादा समय नहीं लगाना चाहिए।
  • Website में बहुत ज्यादा विज्ञापन नहीं होने चाहिए और न ही कोई अशलील चित्र/Image।

Inorganic और Organic traffic में क्या difference हैं? और कौनसा traffic मेरी website को Search Engine में Rank करने में फायदा पहुंचाएगा

अगर मुझे किसी website का URL या address पता हैं और मुझे यह भी पता हैं कि मुझे वह website open करके यह काम करना हैं तो मैं बजाय गूगल में सर्च करने के डायरेक्ट ब्राउज़र(Mozilla Firefox, Google Chrome, Internet Explorer) में website का URL डालता हूँ और website को खोलता हूँ तो मेरे द्वारा किया गया website विजिट Inorganic traffic में काउंट होगा।

सर्च इंजन द्वारा website पर आने वाले विजिट या traffic को Organic traffic कहा जाता हैं।

जैसा कि मैंने पहले बताया हैं कि किसी भी website का 98% तक का traffic सर्च इंजन/ गूगल के द्वारा आता हैं, तो फिर यह बात को क्लियर हैं कि मेरी website तो गूगल में रैंक करने के लिए आर्गेनिक traffic से ज्यादा फायदा होगा।

अब आते हैं Social Trade पर, कंपनी अपने customers को बता रही है कि clicks करने से उन Links/Website/Facebook Page का ट्रैफिक बढ़ रहा है, जिन्होंने इसके लिए Social Trade को पैसे दिए हैं। लेकिन अगर गौर किया जाएँ तो इनमें से लगभग आधे फर्जी हैं, यानी वे किसी वेबसाइट तक पहुंचते ही नहीं हैं। और बाकी लिंक्स उन ग्राहकों द्वारा दिये होते हैं जो इन Links के प्रचार के लिए नहीं बल्कि पैसा बनाने के लिए सोशल ट्रेड से जुड़े हैं।

सोशल ट्रेड से कोई भी पैकेज खरीदते वक्त हर customer को एक website या किसी Facebook page का link देना होता है। ग्राहकों द्वारा दिए गए इन links को ही कंपनी अपने अन्य customers को भेज रही है और part-time काम के नाम पर इन links पर clicks करवा रही है। ग्राहक एक-दूसरे के links पर ही click कर रहे हैं और हर click का पांच रुपया कमा रहे हैं। और कंपनी के अधिकतर ग्राहक ऐसे हैं जो जानते ही नहीं, कि उन्होंने ‘सोशल ट्रेड’ को जो पैसा दिया है वह अपनी किसी वेबसाइट के प्रचार के लिए दिया है।

Social Media Exchange/ Barter System क्या हैं?

यह कोई नई चीज नहीं हैं और ऐसा हम पहले भी करते आ रहे हैं, तुजे में ये देता हूँ, बदले में मैं तुजे जो आप चाहते हो, वो दूंगा। किसी वस्तु के बदल में दूसरी वस्तु देना ही Barter सिस्टम कहलाता हैं। और जब यह सोशल मीडिया में आये तो इसको हम सोशल मीडिया एक्सचेंज(Social Media Exchange) के नाम से भी जान सकते हैं, इसको ऐसे समझ सकते हैं।

आजकल जैसे सोशल मीडिया (Facebook, Twitter, Whatsapp) पर बहुत सारा Traffic रहता हैं बहुत सारे यूजर अधिक समय तक ऑनलाइन रहते हैं ऐसे में अगर इन्हें अपनी website या business के बारें में, वही पर कुछ दिखाया जाए, तो business बदने की सम्भावना बढ़ जाती हैं भले ही वह हमें बहुत ज्यादा फायदा नहीं पहुंचती पर एक Buzz तो create कर ही देती हैं।

इसलिए लोग अपनी website के pages सोशल मीडिया website पर बनाते हैं और ज्यादा से ज्यादा लोगो से अपनी Facebook पेज की पोस्ट को शेयर और like करने को कहते हैं, Barter सिस्टम में अगर मैं आपके पेज को like करता हूँ तो आप भी मेरे पेज को like करो, मैं आपकी पोस्ट शेयर करता हूँ तो आप भी मेरे पेज की पोस्ट को like करो या शेयर करें। एक ऐसी ही popular website हैं जिसका नाम हैं addmefast.com

क्या Search Engine/ Google में Top या पहले Page पर आने से Business में फायदा होता हैं

जैसा कि मैंने पहले ही बताया हैं कि website/सर्च इंजन में पहले पेज पर आने से उस website के user द्वारा visit करने की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं और website ज्यादा विजिट होगी तो business भी ज्यादा आएगा, अत: इस बात में तो कतई संशय नहीं हैं कि website रैंक करने पर business बढ़ता हैं।

क्या SocialTrade के clicks मात्र करने से किसी की website, Google अथवा Search Engine में Rank कर सकती हैं।

नहीं, जैसा कि मैं पहले बता चुका हूँ, कि SocialTrade में आपको 10 से 100 अलग अलग membership के according क्लिक करने को दिए जाते हैं, इसमें यूजर जैसे ही link click करता हैं तो एक pop-up window open होती हैं website या facebook पेज थोड़ी देर के लिए open होता हैं और फिर अपने आप close हो जाता हैं basically यह time 20-30 seconds का होता हैं, अब यह बात तो निश्चित ही हैं कि किसी भी यूजर ने उस website को open किया तो वह पढने के लिए तो किया नहीं हैं मतलब कि user/visitor ने website visit करी हैं पर वो उसका कंटेंट या जानकारी को जानने में interested नहीं हैं, ऐसा विजिट्स को गूगल Bounced traffic में रखता हैं, जिससे website की रैंकिंग में कोई फायदा नहीं होता, हाँ ज्यादा बाउंस रेट होने पर SEO में नुकसान जरुर हो सकता हैं

Social Trade और facebook, Google के ads clicks में क्या difference हैं और कौनसा क्लिक आपकी website को फायदा पंहुचा सकता हैं?

Facebook से विज्ञापन करते समय Facebook आपसे कुछ प्रश्न करता हैं और पूछता हैं कि आपका business किस से सम्बंधित हैं कौन सी उम्र के तथा कौनसे Gender वाले तथा किस जगह में आप अपने business का प्रचार करना चाहते हो?

इस प्रकार आप अपने business का दायरा Facebook को बताते हैं और Facebook उस दायरे में आने वाले (Interested Users) को ही ज्यादा से ज्यादा विज्ञापन दिखता हैं जिससे आपका business grow होने में help मिलती हैं।

Google भी इसी तरह की methodology विज्ञापन show समय करता हैं, वह यूजर/बिज़नेस ओनर से उसके business का एरिया, keywords डलवाता हैं और उसके according ही Visitors को विज्ञापन दिखाता हैं। आप सभी एक बात नोटिस करते होंगे और अगर नहीं करते तो, कीजिये कि अगर मैं Google पर laptop सर्च करता हूँ तो मुझे अगले 3-4 दिन किसी भी website पर Google Advertisements में ज्यादा लैपटॉप के ही विज्ञापन दिखाई देंगें।

Social Trade इन सबसे बिल्कुल अलग हैं और पता नहीं किस तरह ही मार्केटिंग या विज्ञापन करता हैं जिसमें यूजर/visitor website open करता हैं Visitor उस website को देखने में या कोई जानकारी हासिल करने में कोई Interest नहीं रखता और फिर थोड़ी देर बाद वह website या Facebook पेज अपने आप बंद हो जाता हैं।

क्या SocialTrade के through कमाई की जा सकती हैं

यह बात तो मैं नहीं बता सकता कि कमाई की जा सकती हैं या नहीं, लेकिन इस बात को मैं अच्छी तरह से जानता हूँ कि जो काम Social Trade करवा रहा हैं और जिस काम के वह पैसे दे रहा हैं वह काम किसी भी काम का नहीं हैं, और इससे website के SEO, SMO को ज्यादा फर्क नहीं पड़ता हैं, कमाई के बारें में तो वही लोग बता सकते हैं जो कि यह कर रहे हैं, लेकिन मैं आप लोगो को यहाँ बताना चाहता हूँ कि आप अपने मेहनत की कमाई को अगर अगर कहीं खर्च करें तो अच्छी तरह से सोच समझ कर करें।

एक बात और बताना चाहता हूँ कि सोशल ट्रेड ने अपनी वेबसाइट पर अपनी प्रमाणिकता साबित करने के लिए कंपनी के PAN Card, Registration Certificate, ISO Certificate और Service Tax Certificate की Image लगाई हुई हैं। Company Law/ Company Secretary(CS) के जानकार बताते हैं कि किसी भी वैध कंपनी को अपनी website पर इन documents को दिखाने की कोई आवश्यकता नहीं होती, तो फिर यह क्यों ऐसा कर रहा हैं, कहीं इसके पीछे कोई बड़ा SCAM करने की साजिस तो नहीं।

कुल चार दस्तावेज जो कंपनी के पास हैं जो कि मैंने ऊपर बताएं हैं उनमें तीन अलग-अलग address हैं। इससे भी चिंताजनक बात तो यह है कि इन documents का सीधे-सीधे ‘Social Trade’ से कोई लेना-देना भी नहीं दिखाई देता ये सभी दस्तावेज ‘ABLAZE Info Solutions Pvt Ltd’ नाम की कंपनी के हैं। सोशल ट्रेड का दावा है कि वह इसी कंपनी की एक Unit है लेकिन ‘ABLAZE Info Solutions की website में कहीं भी ‘सोशल ट्रेड’ का कोई जिक्र तक नहीं है।

मैं Social Trade के clicks कर-कर के काफी पैसे कमा चुका हूँ, क्या मेरी यह कमाई ऐसे ही जारी रहेगी?

जैसा कि मैं पहले बता चुका हूँ कि जो Click करने से पैसे कमाने का काम हैं वह बेकार का काम हैं और इसका SEO, SMO से कोई लेना देना नहीं हैं, SocialTrade पैसे दे रहा हैं अच्छी बात हैं, पर आगे यह पैसे देगा या नहीं इसके बारें में या तो Social Trade या फिर भगवान ही बता सकता हैं।

Online Digital Marketing के जानकार भी यह बात मानते हैं कि सोशल ट्रेड भी Speak Asia की तरह SCAM कर सकती है क्योंकि ग्राहकों से जो पैसा वह ले रही है उसी पैसे को अन्य ग्राहकों में बांट रही है और उसके पास आय का कोई अन्य जरिया ही नहीं है।

मैंने अभी तक Join नहीं किया हैं क्या मुझे यह करना चाहिए।

यह सब आप पर depend करता हैं मैं बस इतना ही कहूँगा कि अपनी मेहनत की कमाई को किसी business या इस तरह के काम में लगाने से पहले एक बार अपने स्तर पर अच्छी तरह से जांच लें, किसी झांसे में न आयें, उसने कमायें हैं तो मैं भी कर लूँगा, केवल ऐसा सोच कर न करें, अपने सारें पहलुओं को जांच कर ही कोई कदम बढ़ाएं। आपके आपके मित्र यह बताएँगे कि इस कंपनी की सबसे अच्छी बात यह है कि यह रोज़ के रोज़ ही लोगों के अकाउंट में पैसे जमा करवाती है, इसलिए यहां पैसा डूबने का कोई खतरा नहीं है। लेकिन यह कब तक जमा करवायेगी यह पता नहीं ।

मैं एक बात दोबारा आपको बताना चाहता हूँ कि
जिस Part Time काम के नाम पर Social Trade पैसा बांट रही है, असल में वह कोई काम ही नहीं है

Social Trade के बारे में Internet पर जितनी Positive Information उपलब्ध हैं उतनी ही negative भी, लेकिन फिर भी कुछ लोग उदाहरण बनकर, जिन्होंने Social Trade से जुड़कर लाखों रूपये कमा लिए हैं, अन्य कई लोगों को इससे जुड़ने का लगातार लालच दे रहे हैं अत: आप सभी सोच समझ कर ही इस ओर बढे।

नीचे मैं 2 YouTube के Videos के Links Share कर रहा हूँ, एक बार इनको अवश्य देखे।

  1. https://www.youtube.com/watch?v=–eie8vNErc
  2. https://www.youtube.com/watch?v=5lLgEKIQMvY

नोट: उपरोक्त जानकारी लेखक के निजी विचार हैं, अगर आप इससे सहमत हो या न हो ये इसके लिए आप सब अपने स्वयं के स्तर पर जांच कर ले और तत्पश्चात ही कोई निर्णय ले, आपका निर्णय और आपको स्वयं, आपसे ज्यादा कोई नहीं समझ सकता।

अन्य प्रेरणादायी विचारो वाली(Inspirational Hindi Post & Hindi Stories) POST भी पढ़े।

About Author

Mahesh Yadav is a software developer by profession and like to posts motivational and inspirational Hindi Posts, before that he had completed BE and MBA in Operations Research. He have vast experience in software programming & development.

नयी पोस्ट ईमेल द्वारा प्राप्त करने के लिए Sign Up करें।
Follow us on:
facebook twitter gplus pinterest rss

18 Comments

    • Hi Abhinav,
      Web-trade.biz का concept भी बिल्कुल वैसा ही लग रहा हैं जैसा कि SocialTrade.Biz का हैं, आशा हैं आपने मेरे द्वारा यह POST अच्छे से पढ़ लिया होगा और दो YouTube के लिंक जो मैंने Share किये हैं उनको भी देख लिया होगा।

      • Nazir kamboj on

        Aap JAISE log hi hai jo Bharat ko upper NAHI uthne dete .
        Kisi v company ke bare main Kush comments karne se pahle us company ke concept and vision ke bare main Ashi taran se jan Lena chahiye. Bas itna hi kahunga.

        • नज़ीर जी, मैं आपकी भावनाओं की क़द्र करता हूं, परन्तु मेरे द्वारा लिखी गई यह POST और हर एक Point को पढ़ें और उसके पश्चात ही किसी निर्णय पर पहुचे। और अगर उसके बाद भी आपको यह सब सही लगता हैं तो फिर मुझे माफ़ कर दे, आपको जो सही लगे, वो करें ये मेरे निजी विचार हैं।

  1. You have explained each and every question in very descriptive manner that my mind was struggling to find answers . Thanks Mahesh . Happy reading

  2. clickones.com भी तो social trade जैसे धोका देने वाली company है इसके बारे मे पता होना जरूरी है !

Leave A Reply

नयी पोस्ट ईमेल द्वारा प्राप्त करने के लिए Subscribe करें।

कृपया यहाँ Subscribe करने के बाद अपनी E-mail ID खोलें तथा भेजे गये Verification लिंक पर Click करके Verify करें।