अच्छी नसीहत और व्यवहार नीति

1

हितोपदेश

दोस्तों कुछ ऐसे आदतें हैं और ऐसा ज्ञान हैं जो हम सब जानते हैं कि ये गलत हैं और ये गलत नहीं हैं परन्तु हाँ, ये सब अपने व्यवहार में नहीं ला पातें हैं। जब तक हम अपने ज्ञान और अध्ययन को अपने व्यवहार में नहीं उतार लेते तब तक वह व्यर्थ हैं। कुछ ऐसी ही व्यवहार नीति (behavior) और अच्छी आदते (Good Habits) हैं, जो रोजाना की गतिविधियों से जुडी हुई हैं। आशा हैं ये सब आपको पसंद आयेंगी।

उठियें
जल्दी घर के सारें, घर में होंगे पौबारें।

लगाइये
सवेरे मंजन, रात को अंजन।

कीजियें
मालिश तीन बार, बुध, शुक्रवार और सोमवार।

नहाइए
पहले सिर, हाथ पाँव फिर।

खाइयें
दाल, रोटी, चटनी कितनी भी हो कमाई अपनी।

पीजिये
दूध खड़े होकर, दवा पानी बैठ कर।

खिलाइये
आयें को रोटी, चाहें पतली हो या मोटी।

पिलाइए
प्यासे को पानी, चाहे हो जावे कुछ हानि।

छोडियें
अमचूर की खटाई, रोज की मिठाई।

करियें
आयें का मान, जाते का सम्मान।

सीखियें
बड़ो की सीख और बुजुर्गों की रीत।

जाईये
दुःख में पहले, सुख में पीछे।

देखियें
माता की ममता, पत्नी का धर्म।

ब्याहियें
ऐसी नार से, जो घर में रहे प्यार से।

परखिये
चाहे सबको, छोड़ देना माता को।

भगाइए
मन के डर को, बुड्डे वर को।

धोइये
दिल की कालिख को, कुटुम्ब के दाग को।

सोचिएं
एकांत में, करो सबके सामने।

बोलिएं
कम से कम, कर दिखाओ ज्यादा।

चलियें
तो अगाड़ी, ध्यान रहे पिछाड़ी।

सुनियें
सबो की, करियें मन की।

दीजियें
दान जानकार, जो लेवे ख़ुशी मानकर।

बोलियें
जबाब संभल कर, थोडा बहुत पहचान कर।

सुनियें
पहले पराएं की, पीछे अपने की।

रखियें
याद कर्ज के चुकाने की, मर्ज के मिटाने की।

भुलियें
अपनी बडाई को और दूसरों की भलाई को।

छिपाइएं
उमर और कमाई चाहे पूछे सगा भाई।

लिजियें
जिम्मेदारी उतनी, सम्भाल सके जितनी।

धरियें
चीज जगह पर, जो मिल जावें वक्त पर।

उठाइये
सोते हुए को नहीं गिरकर गिरे हुयें को।

लाइयें
गहर में चीज उतनी काम आवे जितनी।

गाइये
सुख में राम को और दुःख में भगवान को।

अन्य प्रेरणादायी विचारो वाली POST भी पढ़े।

—————–
Note: Friends, सावधानी बरतने के बावजूद यदि ऊपर दिए गए किसी भी वाक्य या तथ्य में आपको कोई त्रुटि मिले तो कृपया क्षमा करें और comments के माध्यम से अवगत कराएं।

निवेदन: कृपया comments के माध्यम से यह बताएं कि “अच्छी नसीहत और व्यवहार नीति” आपको कैसा लगा अगर आपको यह पसंद आए तो दोस्तों के साथ (facebook, twitter, Google+) share जरुर करें।

Save

About Author

Mahesh Yadav is a software developer by profession and like to posts motivational and inspirational Hindi Posts, before that he had completed BE and MBA in Operations Research. He have vast experience in software programming & development.

नयी पोस्ट ईमेल द्वारा प्राप्त करने के लिए Sign Up करें।
Follow us on:
facebook twitter pinterest rss

1 Comment

Leave A Reply