Personality Development Hindi Story व्यक्तित्व का प्रबंधन

1

Best Personality Development Tips in Hindi, Personality Management Tips, Personality Management Hindi Story

एक बार एक बूढ़ा शहद से भरी मटकी लेकर जा रहा था, रास्ते में उसका पाँव एक छोटे से पत्थर पर पड़ा, तो वह लडखडाया और मटकी से थोडा शहद जमीन पर टपक गया।

बूढ़ा तो संभल कर आगे चल दिया पर शहद पर कई मक्खिया उड़ कर आ गई और उन मक्खियों को एक गिलहरी ने देखा, तो वह फ़ौरन उन पर झपट पड़ी।

मक्खिया भी उड़ कर चली गई, तभी एक बिल्ली ने गिलहरी पर झपट्टा मारा, तो गिलहरी भी भाग गई उसी समय एक कुत्ता दोड़ता हुआ आया और बिल्ली तेजी से भाग गई।

मगर अचानक एक और कुत्ता वह आ गया फिर दोनों आपस में लड़ने लगे, इतने में उस कुत्तो के मालिक भी आ गए वे अपने कुत्तो को बचाने में लग गए लेकिन जब वे कुत्ते शांत नहीं हुए तो दोनों एक दुसरे के कुत्तो को पीटने लगे और अंत में आपस में भीड़ गए।

जब बात बढ़ गई तो उनके घर वाले और दोस्त भी आ पहुंचे कुछ देर बाद दोनों तरफ के मोहल्ले वाले भी लाठियों लेकर मैदान में आ गए, दोनों गुटों में जमकर मारपीट होने लगी कई लोग जख्मी हो गए।

तभी एक साधु उधर से गुजरा और वह का नज़ारा देख कर वह एक बुढ़िया से बोला “यह लड़ाई किस लिए हो रही हैं?

बुढ़िया कोई उत्तर नहीं दे सकी साधु ने पास खड़े लड़के से पूछा तो वह भी कोई जबाब नहीं दे पाया।
फिर जब दुसरे लोगो से साधु को लड़ाई की असली वजह का पता चला, तब उसने भीड़ को शांत होने का इशारा किया और कहा “बिना बात को समझे लड़ने वाले को आप क्या कहेंगे?

कोई कुछ नहीं बोला सब मौन हो गए साधु ने फिर कहा, हमारे देश में लड़ाई की लड़ यही हैं की लोग जानते ही नहीं हैं की वे किस बात पर झगड़ रहे हैं जिस दिन लोगो को यह बात समझ में आ जायेगी तब समझ लेना की उनके व्यक्तित्व का विकास हो गया हैं फिर वे लड़ने से पहले लड़ाई का कारण जानने की कोशिश करेंगे।

अन्य Best Inspirational & Motivational कहानियां भी पढ़े

Friends, कैसी लगी यह हिंदी story, हम अपने next post में personality development की कुछ tips और बताएँगे, आशा हैं आप लगातार हमारे साथ इन post से प्रेरणा लेते रहेंगे।

Note: Friends, सावधानी बरतने के बावजूद यदि ऊपर दिए गए किसी भी sentence और word में आपको किसी भी टाइप की कोई त्रुटि मिले तो कृपया क्षमा करें और comments के माध्यम से अवगत कराएं।

निवेदन: कृपया comments के माध्यम से यह बताएं कि post “व्यक्तित्व का प्रबंधन आपको कैसा लगा अगर आपको यह पसंद आए तो दोस्तों के साथ (Facebook, twitter, Google+) share जरुर करें।

Save

About Author

Mahesh Yadav is a software developer by profession and like to posts motivational and inspirational Hindi Posts, before that he had completed BE and MBA in Operations Research. He have vast experience in software programming & development.

नयी पोस्ट ईमेल द्वारा प्राप्त करने के लिए Sign Up करें।
Follow us on:
facebook twitter gplus pinterest rss

1 Comment

Leave A Reply