Health Benefits of Milk in Hindi – सभी प्रकार के रोगों की दवा दूध

0

Health Benefits of Milk, दूध पीने के फायदे, दूध एक अच्छा पेय पदार्थ है, Milk हमारे खाने का एक आवश्यक भाग है और सम्पूर्ण आहार हैं

जानिए दूध (अमृत समान औषधि) पीने के फायदे – Knows benefits of taking milk

दूध को एक तरह से पूरा आहार ही माना जाता हैं। यह गिलास से भरा हुआ ही आहार हैं, पोषक तत्व के रूप में यह बेजोड़ हैं। दूध को लेकर कई भ्रान्तिया हैं इसके खिलाफ भी कई बातें लिखी जाती रही हैं, इसी कारण से कई लोगों ने अपने आहार में से दूध को बाहर कर दिया हैं और इनमे से अधिकांश शाकाहारी हैं।

दूध ही एकमात्र ऐसा पेय या आहार हैं जो carbohydrate, वसा और प्रोटीन का मिश्रण हैं इसी कारण से यह पूर्ण आहार माना जाता हैं।

सुमन अग्रवाल (nutritionist and fitness consultant) के अनुसार 100 मिलीलीटर गाय के दूध में 3.2 ग्राम प्रोटीन, 4.1 ग्राम वसा और 4.4 ग्राम carbohydrate  होता हैं जो आपको 67 कैलौरी प्रदान करता हैं। भैस का दूध कुछ भारी होता हैं, जिसमे 4.3 ग्राम प्रोटीन, 6.5 ग्राम वसा, 5 ग्राम carbohydrate होता हैं इससे 117 ग्राम कैलोरी मिलती हैं। निश्चित रूप से इसमें वसा की मात्रा ज्यादा होती हैं लेकिन इसको स्कीमिंग करके कम किया जा सकता हैं करीब 99.5 % दूध वसा मुक्त कर सकते हैं।

शरीर को हेल्दी बनाने के लिए रोजाना आधा लीटर दूध जरूर पीना चाहिए क्योंकि यह 250 ग्राम मीट और तीन अंडों से ज्यादा शक्ति देने वाला होता है। सिर्फ यही नहीं दूध से कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्स को भी दूर किया जा सकता है, एक ताजा अध्ययन में कहा गया है कि दूध न सिर्फ पोषक तत्वों से भरपूर रहता है बल्कि इससे ब्रेन पावर पर सकारात्मक असर पड़ता है।

शाकाहारी लोगो के लिए यह प्रोटीन का अहम स्त्रोत माना जाता रहा हैं, क्योकिं ये लोग मूल रूप से अपनी दैनदिनी जरूरतों के लिए दाल और दूध पर ही निर्भर करते हैं। दूध में पायें जाने वाले प्रोटीन की quality भी अच्छी रहती हैं इसका मतलब यह हैं कि यह पर्याप्त मात्र में अमीनो एसिड लिए रहता हैं ताकि अच्छा प्रोटीन बना सके, यदि शाकाहारी लोग दूध का सेवन भी नहीं करते हैं तो उनको प्रोटीन की शिकायत हो सकती हैं। इनका बाल झड़ने लगेंगे और अनीमिया भी हो सकता हैं। hormonal imbalance, समय से पहले उम्रदराज दिखना, बौदिक स्तर में गिरावट और ताकत में कमी होगीं।

पूरा आहार और प्रोटीन से भरपूर आहार होने के अलावा दूध में calcium भी काफी मात्र में होता हैं। हालांकि हरी पत्तेदार सब्जियों में भी यह calcium पाया जाता हैं लेकिन वह शरीर को इतना नहीं लगता जितना कि दूध लगता हैं। दूध में जो कैल्शियम हैं वह अन्य पदार्थो के बजाय आसानी से समाहित रहता हैं क्योकि इसमें फास्फोरस और विटामिन डी भी होता हैं यहाँ धारणा गलत हैं कि बढतें बच्चों को ही दूध की जरुरत होती हैं, बड़े लोगो को भी कैल्शियम जरुरत होती है हालांकि ज्यादा उम्र के लोगों को कैल्शियम की उतनी जरुरत नहीं होती, जितनी कि बच्चों को रहती हैं। हमारें देश में वयस्कों के लिए प्रतिदिन 400 मिग्रा कैल्शियम की जरुररत होती हैं एक कप दूध 150 मिग्रा और दही 180 मिग्रा कैल्शियम की जरुरत को पूरी करता हैं। यदि 400 से 60 मिग्रा दूध उत्पादन का सेवन एक दिन में होता हैं तो यह प्रतिदिन की जरुरत पूरी करने के लिए काफी हैं। कैल्शियम की कमी के लक्षण में हड्डिया कमजोर होना, Air Conditioner के सामने सीधा नहीं बैठ नहीं पाना और ओस्त्योपोरोसिस  की समय से पहले शुरुआत होना हैं।

दूध विटामिन बी-12 का भी अच्छा स्त्रोत हैं जो कि शाकाहारियो के लिए लाभदायक हैं विटामिन बी 12 केवल animal स्त्रोत से ही प्राप्त किया जा सकता हैं। बी 12 कि कमी से एनीमिया और अन्य न्यूरोलॉजिकल समस्या जैसे संतुलन गड़बड़ाना, मांसपेशियों में कमजोरी, नज़र कमज़ोर और मन खराब रहना जैसी समस्या हो सकती हैं।

गर्म दूध के साथ हल्दी के सेवन से शरीर में जमा फैट्स घटता है। इसमें मौजूद कैल्शियम और मिनिरल्स सेहतमंद तरीके से वेट लॉस में मददगार हैं।

यह भी कहा जा सकता हैं कि दूध पाचन तंत्र के लिए ठीक नहीं माना जाता, क्योकि इसमें लाक्टोस होता हैं जिन लोगों को लाक्टोस नहीं पचता, उनको परेशानी आती हैं यदि ये लोग दूध पीतें हैं, तो इनको वायु विकार, कॉम्प्रेस या शरीर में अकडन या डायरिया हो सकता हैं लेकिन दूध उत्पादों के जरिएं भी इसी खूबियों को ग्रहण कियां जा सकता हैं इसमें दही पनीर आतें हैं प्रोटीन कैल्शियम और विटामिन 12 के कारण दूध शाकाहारियों के लिए जरुरी हैं यह ऐसी चीजें हैं, जो नकार नहीं सकते।

डाइटीशियन के अनुसार दूध को बार-बार उबाले नहीं, ऎसा करने से उसमें मौजूद विटामिन और पोषक तत्वों में कमी आ जाती है। कोशिश करें कि दूध जरूरत के हिसाब से ही खरीदकर लाएं और फ्रिज में ढककर रखें। जितना प्रयोग में लाना हो केवल उतना ही दूध गर्म करें।

स्वास्थ लाभ की जानकारी वाले अन्य POST भी पढ़े और मुस्कुराते रहिये

—–

Note: Friends, सावधानी बरतने के बावजूद यदि ऊपर दिए गए किसी भी वाक्य में आपको कोई त्रुटि मिले तो कृपया क्षमा करें और comments के माध्यम से अवगत कराएं।

निवेदन: कृपया comments के माध्यम से यह बताएं कि “सभी प्रकार के रोगों की दवा दूध, कई गुणों का खजाना है दूध, पूरा आहार हैं दूध” आपको कैसा लगा अगर आपको यह पसंद आए तो दोस्तों के साथ (facebook, twitter, Google+) share जरुर करें।

Save

About Author

Mahesh Yadav is a software developer by profession and like to posts motivational and inspirational Hindi Posts, before that he had completed BE and MBA in Operations Research. He have vast experience in software programming & development.

नयी पोस्ट ईमेल द्वारा प्राप्त करने के लिए Sign Up करें।
Follow us on:
facebook twitter gplus pinterest rss

Leave A Reply